जानिए क्या रही वजह,अडानी ग्रुप का यह शेयर 22 फीसदी नीचे आया

हम सभी जानते हैं अदानी विल्मर हाल में ही लिस्ट हुई थी जैसे की लिस्टिंग होने के बाद कंपनी में 3 गुना से अधिक उछाल आए

उछाल आने के साथ-साथ मार्केट कैप एक लाख करोड़ रुपए के पास भी पहुंच गया था लेकिन स्थिर ना रहने की वजह से 427 में भारी गिरावट देखने को मिल रहा है।

जैसा की आप लोगों ने न्यूज़ से ज्यादा संपर्क रखते हैं तो शेयर मार्केट का न्यूज़ लगातार पढ़ने के बाद आप देखेंगे कंपनी ने 2 मई को अपने तिमाही नतीजों की घोषणा की थी

जहां तक सूत्रों के हिसाब से पता लगा है कि यह से और 28 अप्रैल को 878.35तक पहुंच गया था लेकिन या स्थिर ना रहा बल्कि 680.20रुपए तक आ गया

इतना ही नहीं गुरुवार को इस नेम 5 फेस की गिरावट के साथ 968 भी छू लिया इस तरह 4 सत्र में इस में 22.5की गिरावट देखने को मिला

हम लोग जानते हैं अदानी ग्रुप का चेयरमैन अदानी के शेयर में भारी गिरावट आने की वजह से उनके नेटवर्क पर असर पड़ा है

ब्लूमवर्ग बिलिनियर इंडेक्स के हिसाब से हटाने की नेटवर्थ में 3.64 डॉलर की भारी गिरावट देखने को मिला

इतना ही नहीं यह भी चौंकाने वाला बात है कि अडानी के 118 अरब डॉलर की नेटवर्क के साथ छठे नंबर पर आ गया

आप लोगों को यह भी बताओ अदानी विल्मर मैं अदानी ग्रुप और सिंगापुर के विल्मर ग्रुप की हिस्सेदारी भी बढ़चढ़ कर दिया जा रहा है

साथ में इस कंपनी के पास फॉर्च्यून ब्रांड है जो अपने आप में ही बहुत बड़ा तेल का ब्रांड बन चुका है