दोस्तों आप लोगों को बता दूं आखिर याचना बिजाई योजना क्या है जैसा कि हरियाणा सरकार ने मंगलवार को चारा  बिजाई योजना का लॉन्च किया है

इस योजना को दूरदर्शी योजना भी कहते हैं जिसके अंतर्गत अगर कोई किसान 10 एकड़ जमीन तक चारा उगाने का बाद गौशालाओं को देगा तोरा सरकार उसे ₹10000 प्रति एकड़ देगी। 

इतना ही नहीं किसानों तक डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर द्वारा की जाएगी अगर यह योजना का लाभ सभी उठाते हैं तो पशु पालन करने में काफी मदद मिलेगी

आप लोगों को बता  दूँ  हरियाणा राज्य में सारे 500 से अधिक गौशाला को अप्रैल महीने में 13.44 करोड़ रुपए दिए गए थे जिससे वह  गौशाला में चारा खरीद सके। 

हरियाणा सरकार यह भी बताया है पशु चारे के लिए एक जिले से दूसरी जिले से चारा लाया जा सकता है लेकिन दूसरे राज्यों से सूखा चारा लाना प्रतिबंधित है। 

इस योजना का एक ही उद्देश्य है कृषि बालकों को लाभ देना ताकि आवारा मवेशियों की संख्या राज्य में बहुत ज्यादा बढ़ने को देखा जा रहा है। 

अगर यह योजना का लाभ उठाते हैं तो आवारा मवेशियों को चारे में कोई परेशानी नहीं उठाने को मिल सकती है। 

अब बात करते हैं हरियाणा चारा बिजाई की योजना की विशेषताएं। 

हरियाणा चारा बिजाई योजना हरियाणा सरकार के द्वारा चलाई गई योजना है। यह योजना हरियाणा राज्य के कृषि मंत्री ने सार्वजनिक की है। 

इस योजना के अंतर्गत राज्य में बढ़ते आवारा मवेशियों की बढ़ती संख्या और उनके भोजन की कमी को ध्यान में रखकर ही यह योजना चलाई गई है। 

यह योजना चलाने का एक ही कारण है हरियाणा राज्य में सूखे चारे की कमी हो गई थी। 

अगर आप इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो जान ले क्या-क्या कागजात लगेंगे। 

खेती के डाक्यूमेंट्स आधार कार्ड मोबाइल नंबर बैंक के अकाउंट पासबुक रंगीन फोटोग्राफ गौशाला से जुड़े सर्टिफिकेट्स

अब बात आती है हरियाणा चारा बिजाई योजना के लिए पात्रता

हरियाणा चारा बिजाई योजना हरियाणा के किसानों के लिए है योजना हरियाणा के कृषि पालक एवं गौ सालों को देखते हुए यह योजना बनाई गई है

अगर आप इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो सभी जरूरत कागजात और सर्टिफिकेट्स का होना बहुत जरूरी है

अब बात आती है हरियाणा चारा विचार योजना आवेदन कैसे करें

तो दोस्तों यह योजना अभी-अभी हरियाणा सरकार के द्वारा ऐलान किया गया है इसलिए सरकारी योजना के लिए वेबसाइट बनाने में थोड़ा सा वक्त लगता है। 

तो दोस्तों यह योजना अभी-अभी हरियाणा सरकार के द्वारा ऐलान किया गया है इसलिए सरकारी योजना के लिए वेबसाइट बनाने में थोड़ा सा वक्त लगता है।