प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन पेंशन योजना के अंतर्गत देश के जितने भी गरीब परिवारों के लोग हैं उन्हें 3000 पेंशन देने का ऐलान किया है

लेकिन एक उम्र की शर्ते लगी है जिसका उम्र 60 साल की हो उसे ही पेंशन मिल सकता है

यह योजना इसलिए चलाई गई है ताकि वृद्धावस्था में अपने परिवार वालों पर आश्रित ना रहे लेकिन इसके लिए भी कुछ राशि जमा करना पड़ेगा। 

अगर आप चाहते हैं महीने के ₹3000 वृद्धावस्था में लेने के लिए तो आप ₹55 से लेकर ₹200 तक महीने के राशि जमा करना होगा।

आज इस पोस्ट में बात करने वाले हैं आखिर क्या क्या प्रक्रिया है जिससे आप वृद्धावस्था में ₹3000 पेंशन मिल जाएगा। 

जाने पूरी जानकारी आखिर 3000 पेंशन लेने के लिए क्या-क्या पात्रता है। 

अगर आप आवेदन कर रहे हैं ताकि उम्र 18 वर्ष से लेकर 40 वर्ष के बीच में होना चाहिए। 

इस योजना के अंतर्गत जो भी श्रमिक की मासिक आय 15,000 से अधिक नहीं होनी चाहिए

इस आवेदक  असंगठित क्षेत्र में कामगार होना चाहिए। 

आवेदक श्रमिक आयकर प्रदाता नहीं होनी चाहिए और सबसे जरूरी बात है बैंक खाते से आधार कार्ड लिंक होना अनिवार्य है

अब बात करते हैं 3000 पेंशन प्राप्त करने के लिए क्या-क्या कागजात लगेंगे।

आधार कार्ड राशन कार्ड बैंक खाता पासबुक पहचान पत्र पासपोट साइज फोटो मोबाइल नंबर आय प्रमाण पत्र

अब आप लोग जानना चाहेंगे कि आखिर यह पेंशन के लिए आवेदन कैसे करें। 

सबसे पहले आपको प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना के आवेदन करने के लिए अपने नजदीक के किसी भी बैंक में जाना होगा जिस बैंक में आपका बैंक खाता खुला हो। 

उसके बाद बैंक के अधिकारी से इस योजना के बारे में सभी जानकारी अच्छी तरह से पूछ ले और सारे दस्तावेज के साथ जाए। 

इसके बाद आप को बैंक से आवेदन फॉर्म मिल जाएंगे फॉर्म में जितने भी जानकारी पूछी जा रही है सभी आप सही-सही दें। 

आपने फॉर्म की सारी जानकारी दे दी है तो जितने भी कागजात मांगी हुई है सभी को आपको फोटो कॉपी करवा लें और इस फॉर्म के साथ लगा दे.

और बैंक अधिकारी के पास इस फॉर्म और दस्तावेज के साथ जमा करते हैं इसके बाद आपकी उम्र के अनुसार आपके बैंक खाता में पैसे जमा होने लगेंगे। 

इस प्रकार आप प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना से ₹3000 पेंशन पाने के लिए आवेदन करके वृद्धावस्था का टेंशन खत्म कर लेंगे।